"Everybody is a genius. But if you judge a fish by its ability to climb a tree, it will live its whole life believing that it is stupid." – Albert Einstein

रात को मेरी माँ मेरे कमरे में आ कर रोई -राहु ल गाँधी


बड़े असमंजस का दौर है … अपने देश मे … आप भी देखिये !

एक तरफ वो माँ है जिस का बेटा दूर सीमा पर बैठा है … दुश्मन के सामने … जान की बाज़ी लगाए … पर वो नहीं रोती !

दूसरी तरफ वो माँ है जो देश की सत्ता चला रही है … जिस के बेटे को देश का अगला प्रधानमंत्री बताया जाता है … और वो रोती है !

रात को मेरी माँ मेरे कमरे में आ कर रोई’ -राहुल गाँधी

कोई इनको समझाओ कि जब जब आप अपने माँ के रोने की बात … एक कागज के टुकड़े को देख कर करते है … न जाने क्यों उन आंसुओं के साथ साथ आपके चहेरे का पानी भी मरा हुआ दिखता है !

ये देखिये जयपुर में इन झूठे मक्कारों का रोना धोना.!!
महेश भट्ट का "कपूत" डेविड हेडली के साथ पींगे बढाए तो वह मासूम है.

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s