"Everybody is a genius. But if you judge a fish by its ability to climb a tree, it will live its whole life believing that it is stupid." – Albert Einstein

राष्ट्रीय कलंक मुक्ति दिवस पर विशेष


दे दिये हमे भ्रष्टाचारी बिना खडग बिना ढाल ,
साबरमती के पापी तुने हमें कर दिया बेहाल ||

अंध भक्ति में तेरी मरते रहे माँ भारती के लाल ,
साबरमती के पापी तुने कर दिया बेहाल ||

दे दिये हमे भ्रष्टाचारी बिना खडग बिना ढाल ,

साबरमती के पापी तुने हमें कर दिया बेहाल ||

धरती पर तुने लड़ी अजब ढंग की लढाई ,
बेगुनाहों को मरवा कर खुद अपनी जान बचायी ,
दुश्मन के कहने पर की तुने की गद्दारी ,
वहा रे गंधासुर तुने भगत सिंह को थी फांसी दिलाई ,

चुटकी में तुने हिन्दुओं को दिया कर हलाल ,
साबरमती के पापी तुने कर दिया बेहाल ||

दे दिये हमे भ्रष्टाचारी बिना खडग बिना ढाल ,
साबरमती के पापी तुने हमें कर दिया बेहाल ||

शतरंज बिछा कर बैठा था यंहा पर ज़माना ,
लगता था जैसे तुझे मिल गया खून बहाने का बहाना ,
टक्कर थी बड़ी जोर और पाकिस्तान था बहना,
तुझ को तो था बस हिन्दुओं को बेमौत मरवाना,
दे दिए ५५ करोड़ रुपये हो गया पाकिस्तान खुशहाल ,

साबरमती के पापी तुने कर दिया बेहाल ||

दे दिये हमे भ्रष्टाचारी बिना खडग बिना ढाल ,
साबरमती के पापी तुने हमें कर दिया बेहाल ||

जब जब तेरा मन करा संयम परखने लगा ,
नंगी लड़कियों के साथ खुले आम सोने तू लगा ,

हिन्दू हो मुसलमान हो सिख पठान लड़ पड़े ,
कदमो में तेरी कट कट के भारतीय गिर पड़े ,
एडविना को लेकर अय्याशी करने लगे जवाहरुद्दीन जान ,
साबरमती के पापी तुने कर दिया बेहाल ||

mahatma_gandhi

दे दिये हमे भ्रष्टाचारी बिना खडग बिना ढाल ,

साबरमती के पापी तुने हमें कर दिया बेहाल ||

मन में थी हिंसा बसी और तन पर लंगोटी ,
रातो को सोता था लेकर के अपनी नंगी पोती ,
वैसे तो देखने में तेरी काया थी छोटी ?
लेकिन तुझ पर मरती थी अंग्रेजो की भी बेटी ,

दुनिया में बेजोड़ था तू इंसान बेईमान
साबरमती के पापी तुने कर दिया बेहाल ||

दे दिये हमे भ्रष्टाचारी बिना खडग बिना ढाल ,
साबरमती के पापी तुने हमें कर दिया बेहाल ||

जग में है दुःख दिया मुझे तो बस तुने ही दिया ,

वतन की रहा पर तुने अपनों को ही लुट लिया ,
महात्मा बनने के लालच में तुने ये क्या किया ,
दुश्मनों से देश के तुने सत्ता का समझोता कर लिया ,
जिस दिन तेरा वध हुआ उस दिन रोया था मुसलमान ,
साबरमती के पापी तुने कर दिया बेहाल ||

दे दिये हमे भ्रष्टाचारी बिना खडग बिना ढाल ,
साबरमती के पापी तुने हमें कर दिया बेहाल ||

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s