"Everybody is a genius. But if you judge a fish by its ability to climb a tree, it will live its whole life believing that it is stupid." – Albert Einstein

बाबा रामदेव का नाम न होने पर कांग्रेस दुखी !


बड़ा खुलासा … विश्व के 38 बड़े मीडिया संस्थाओं ने काले धन को जमा करने एवं उससे नए व्यापर खड़े करने वाले 612 भारतियों के नाम जारी किये !! दो कांग्रेस के सांसदों एवं विजय माल्या का नाम … ( Hin / Eng )

ब्लैक मनी को लेकर देश में चल रही बहस के बीच इंटरनैशनल कंसोर्सियम ऑफ इन्वेस्टिगेटिव जर्नलिस्ट्स (ICIJ) ने एक बड़ा खुलासा किया है। दावा किया गया है कि भारत के 612 उद्योगपतियों ने विदेशों में फर्जी कंपनियां खोलकर टैक्स चोरी की और अपने पैसों को खपाया है। इनमें एक कांग्रेस सांसद का नाम भी शामिल हैं। ICIJ ने 170 देशों के 1.2 लाख फर्म्स, ट्रस्ट और एजेंट्स के बारे में यह ‘महाखुलासा’ किया है।

ICIJ के इस खुलासे में कांग्रेस के लोकसभा सांसद विवेकानंद गद्दम और राज्य सभा सदस्य और किंगफिशर के मालिक विजय माल्या के नाम भी शामिल हैं। इसके अलावा भारत के टॉप बिजनेमैन रविकांत रुइया, समीर मोदी, चेतन बर्मन, अभय कुमार ओसवाल, तेजा राजू, सौरभ मित्तल आदि के भी ब्रिटिश वर्जिन आइलैंड, कुक आइलैंड और समोआ जैसे टैक्स हेवन समझे जाने वाले देशों में फर्जी कंपनियां और खाते हैं।

इन देशों में पैसा लगाते हुए आरबीआई और FEMA के नियमों का खुलेआम उल्लंघन किया गया है। ICIJ ने सभी की ट्रांजैक्शन डीटेल्स भी जारी की हैं।

ट्रांजैक्शन की डीटेल्स 2.5 मिलियन सीक्रेट फाइल में मौजूद हैं। इन फाइलों में करीब 260 जीबी डेटा है। इनमें पिछले 30 सालों के करीब दो लाख ईमेल्स भी शामिल हैं। इन सीक्रेट फाइलों में कंपनियों के कैश ट्रांसफर के पूरे आंकड़े और कुछ लोगों से कंपनी के संबंधों की भी डीटेल्स हैं। ये दस्तावेज 2010 में विकिलीक्स के अमेरिकी विदेश विभाग के लीक किए गए दस्तावेजों से 160 गुना ज्यादा बताए जा रहे हैं।

क्या है ICIJ: ICIJ दरअसल खोजी पत्रकारों का एक संगठन है। इसका मुख्यालय वॉशिंगटन में है। इसके नेटवर्क में अलग-अलग देशों के कई स्वतंत्र खोजी पत्रकार जुड़े हुए हैं। इसके साथ ही ICIJ से कई मीडिया संगठन भी जुड़े हुए हैं।

International Consortium of Investigative Journalists (ICIJ), in collaboration with 38 media organisations across the world, including Indian Express, has revealed that there are 612 Indians who have shell companies in tax havens.

The list includes two MPs – Kingfisher group owner Vijay Mallya and Congress MP Vivekananda Gaddam.

The list includes several industrialists such as Ravikant Ruia, Samir Modi, Chetan Burman, Abhey Kumar Oswal, Rahul Mammen Mappillai, Teja Raju, Saurabh Mittal and Vinod Doshi.

The list also includes businessmen who have had a brush with authorities such as the Income-Tax department and the CBI. Several of the offshore investments were made in possible violation of RBI and FEMA rules.

Details of these transactions were contained in 2.5 million secret files and accounted for more than 260 gigabytes of data, an Indian Express report said.

The secret files provide facts and figures — cash transfers, incorporation dates, links between companies and individuals — that illustrate how financial secrecy has spread aggressively around the globe. They represent the biggest stockpile of inside information about the offshore system ever obtained by a media organisation.

Besides several well-known Indians, the lists include American doctors and dentists, middle-class Greek villagers as well as families and associates of long-time despots, Wall Street swindlers, East European and Indonesian billionaires, Russian corporate executives and international arms dealers.

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s