"Everybody is a genius. But if you judge a fish by its ability to climb a tree, it will live its whole life believing that it is stupid." – Albert Einstein

History of Riots in Gujarat


Please Share this important Information to all History of Riots in Gujarat: ● 1-भारत की आज़ादी के बाद के इतिहास में सबसे भयानक दंगे 1969 में अहमदाबाद (गुजरात) में हुए थे जिसमें 5000 मुसलमान मारे गए थे। उस वक़्त गुजरातके मुख्यमंत्री काँग्रेस के "हितेन्द्र भाई देसाई" थे और भारत की प्रधानमंत्री इन्दिरा G.......... ● 2- इसके बाद दूसरा बड़ा दंगा 1985 में गुजरात में हुआ जिसके बाद अन्य छोटे छोटे दंगे हुए जो महीनों तक चले, तब गुजरात के मुख्यमंत्री काँग्रेस के 'माधव जी सोलंकी' थे और भारत के प्रधानमंत्री राजीव गांधी थे। ....... ● 3-1987 में गुजरात में फिर दंगे हुए और तब भी गुजरात के मुख्यमंत्री काँग्रेस के 'अमर सिंह चौधरी' थे। ● 4- इसके बाद 1990 में फिर से गुजरात दंगों की आग में दहक उठा। उस समय भी गुजरात के मुख्यमंत्री काँग्रेस के 'चिमन भाई पटेल' थे। ● 5. और आखिर में 1992 में हुए दंगों के समय भी गुजरात के मुख्यमंत्री काँग्रेस के 'छिमा भाई पटेल' ही थे। ● गुजरात के इतिहास के सैकड़ों दंगों में से इन 5 बड़े दंगों के लिए हमारे "बुद्धिजीवी" किसे जिम्मेदार मानेंगे ?? और याद रखिए गुजरात में 2002 के बाद से अमन और शांति कायम है..... All Because of Chief Minister NAREDRA MODI... Narendra Modi : For me, Secularism means putting India First - @[252382316547:274:Narendra Modi For PM]

Please Share this important Information to all. Paid media is targeting Narendra modi only because he speaks about Hindu and Nation.

● 1-भारत की आज़ादी के बाद के इतिहास में सबसे भयानक दंगे 1969 में अहमदाबाद (गुजरात) में हुए थे जिसमें 5000 मुसलमान मारे गए थे। उस वक़्त गुजरातके मुख्यमंत्री काँग्रेस के "हितेन्द्र भाई देसाई" थे और भारत की प्रधानमंत्री इन्दिरा G……….

● 2- इसके बाद दूसरा बड़ा दंगा 1985 में गुजरात में हुआ जिसके बाद अन्य छोटे छोटे दंगे हुए जो महीनों तक चले, तब गुजरात के मुख्यमंत्री काँग्रेस के ‘माधव जी सोलंकी’ थे और भारत के प्रधानमंत्री राजीव गांधी थे। …….
● 3-1987 में गुजरात में फिर दंगे हुए और तब भी गुजरात के मुख्यमंत्री काँग्रेस के ‘अमर सिंह चौधरी’ थे।

● 4- इसके बाद 1990 में फिर से गुजरात दंगों की आग में दहक उठा। उस समय भी गुजरात के मुख्यमंत्री काँग्रेस के ‘चिमन भाई पटेल’ थे।

● 5. और आखिर में 1992 में हुए दंगों के समय भी गुजरात के मुख्यमंत्री काँग्रेस के ‘छिमा भाई पटेल’ ही थे।

● गुजरात के इतिहास के सैकड़ों दंगों में से इन 5 बड़े दंगों के लिए हमारे "बुद्धिजीवी" किसे जिम्मेदार मानेंगे ?? और याद रखिए गुजरात में 2002 के बाद से अमन और शांति कायम है…..

All Because of Chief Minister NAREDRA MODI

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s